राशन कार्ड शिकायत नंबर 2022 : Helpline, Toll Free Number – All Useful Information

Ration Card Shikayat Number | Ration Card Shikayat Helpline Number | Up Ration Card Shikayat Number | Up Ration Card Shikayat Helpline Number | Ration Card Shikayat Toll Free Number | राशन कार्ड शिकायत नंबर UP | राशन डीलर की शिकायत कैसे दर्ज करें | राशन कार्ड कंप्लेंट ऑनलाइन – टोल-फ्री नंबर |  राशन कार्ड शिकायत हेल्पलाइन नंबर | टोल फ्री नंबर पर राशन कार्ड संबंधी शिकायत | खाद्य विभाग अधिकारी का नंबर | राशन कार्ड का शिकायत नंबर

Ration Card Shikayat Helpline Number : दोस्तों देश के सभी 36 राज्यों में और सभी केंद्र शासित राज्यों में राशन कार्ड संबंधित हेल्पलाइन सेवा को उपलब्ध करा दिया गया है और इसके लिए खाद्य विभाग की आधिकारिक वेबसाइट भी लांच की गई है। यह आधिकारिक वेबसाइट कुछ इस प्रकार है- nfsa.gov.in अब नागरिक इस आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से देश के सभी राज्यों और केंद्र शासित राज्यों के हेल्पलाइन नंबर की जानकारी ले सकते हैं और अपनी शिकायतों को दर्ज करा सकती हैं।

दोस्तों अब जो नागरिक राशन कार्ड से संबंधित अपनी शिकायतें या फिर अन्य सुविधाओं को प्राप्त करने के लिए हेल्पलाइन संख्या का इंतजार कर रहे थे वह आसानी से अपने राज्य की हेल्पलाइन संख्या के माध्यम से अपनी शिकायतों को दर्ज करा पाएंगे और अन्य राशन कार्ड संबंधित सुविधाओं को लेने के लिए एप्लीकेशन दे पाएंगे।

दोस्तों देश में बहुत से ऐसे राज्य हैं जिसमें सरकारी राशन का गमन किया जा रहा है और लाभार्थी नागरिकों तक उस राशन को नहीं पहुंचाया जा रहा है जिस कारण नागरिकों को बहुत परेशानी का सामना करना पड़ता है। अब नागरिकों को परेशान होने की आवश्यकता नहीं है वह अपने राज्य के हेल्पलाइन नंबर और ईमेल आईडी के माध्यम से संबंधित विभाग के प्रभारी से और अपनी शिकायतें दर्ज करा सकते हैं और इसके अतिरिक्त अपनी शिकायत की स्थिति भी चेक कर सकते हैं।

Ration Card Shikayat Number

Table of Contents

Ration Card Shikayat Numberराशन कार्ड शिकायत नंबर

दोस्तों जिन राज्यों में अधिक भ्रष्टाचार फैला हुआ है जिन राज्यों में राशन डीलर अपने मनमाने ढंग से राशन का गमन कर रहे हैं और केंद्र सरकार के साथ धोखाधड़ी और जमाखोरी कर रहे हैं, ऐसे भ्रष्टाचारियों से निपटने के लिए सरकार ने सभी राज्यों के लिए राशन कार्ड संबंधित हेल्पलाइन सेवा जारी की है और यह हेल्पलाइन सेवा पूरी तरह निशुल्क है। अब नागरिकों राशन कार्ड या फिर राशन वितरण से संबंधित अपनी शिकायतों को अपने राज्य के हेल्पलाइन नंबर या फिर ईमेल आईडी पर दर्ज करा पाएंगे।

राशन कार्ड शिकायत हेल्पलाइन नंबर  Ration Card Complaint Helpline No

दोस्तों जैसा कि हमने आपको ऊपर बताया की केंद्र सरकार ने सभी राज्यों के अनुसार राशन कार्ड हेल्पलाइन नंबर जारी की है। जिन नागरिकों को राशन कार्ड का लाभ मिलना चाहिए जो इसके वैधानिक रूप से हकदार हैं और किसी कारण उन्हें राशन नहीं मिल पा रहा है तो वह अपने राशन कार्ड से संबंधित शिकायत को हेल्पलाइन संख्या के माध्यम से संबंधित विभाग में पहुंचा सकते हैं। अगर आप हेल्पलाइन संख्या जानने के इच्छुक हैं तो आप हमारे आर्टिकल को ध्यानपूर्वक पढ़ें। हम आपको सभी राज्यों के अनुसार उनकी हेल्पलाइन संख्या और ईमेल आईडी से अवगत कराएंगे।

टोल फ्री नंबर पर राशन कार्ड संबंधी शिकायत

आप नीचे दिए गए राशन कार्ड टोल फ्री नंबर UP 2022, Bihar, Jharkhand, MP, Chhattisgarh, Rajasthan और भी अन्य राज्य के चेक कर सकते हैं और इसके अतिरिक्त अपनी शिकायत को आप ऑनलाइन या फिर टोल फ्री नंबर के माध्यम से दर्ज करा सकते हैं।

Highlights Of Ration Card Shikayat Helpline Number

आर्टिकल   Ration Card Complaint Helpline (State-wise)
किसके अंतर्गत  राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम (NFSA)
उद्देश्य   राशन कार्ड संबंधी शिकायत दर्ज करने हेतु
लाभार्थी   देश के सभी राशन कार्ड धारक
आधिकारिक वेबसाइटhttps://nfsa.gov.in/
Register Grievance Online at NFSAClick Here
आर्टिकल श्रेणी केंद्र/ राज्य सरकार योजना
State-wiseराशन कार्ड शिकायत हेल्पलाइन नंबर सूची देखें

Ration Card Complaint Helpline Numbers In States-wise List

देश के नागरिक किसी भी पीडीएस से जुड़ी जानकारी प्राप्त करने के लिए टोल फ्री नंबर पर कॉल कर सकते हैं या फिर अपने राज्य या फिर नागरिक यदि केंद्र शासित प्रदेश से है तो भी वह अपनी समस्या से संबंधित दिमाग से काम नहीं रख सकता है इसके लिए वह टोल फ्री नंबर पर कॉल कर सकता हैं:

राशन कार्ड शिकायत हेल्पलाइन नंबर सूची देखें –

राज्य का नामटोल-फ्री नंबरलैंडलाइन नंबर / ईमेल आईडी
आंध्र प्रदेश (AP)1967, 1800-425-2977040-23494808 / 822, [email protected]
अरुणाचल प्रदेश196703602244290, [email protected]
असम (Assam)1967, 1800-345-36119435064841, [email protected]
बिहार1800-3456-19406122223051, [email protected]
छत्तीसगढ़ (CG)1967, 1800-233-36630771-2511974, [email protected]
गोवा (Goa)1967, 1800-233-002208322226084, [email protected]
गुजरात1967, 1800-233-550007923251163, 65, 70, [email protected],
हरियाणा1967, 1800-180-208701722701366, [email protected]
हिमाचल प्रदेश1967, 1800-180-802601772623749, 46, [email protected]
झारखंड1967, 1800-345-6598, 1800-212-55120651-712-2723, 0896-958-3111, [email protected],
कर्नाटक (Karnataka)1967, 1800-425-9339080-22259024, 22034562, [email protected]
केरल (Kerala)1967, 1800-425-155004712320578, [email protected]
मध्य प्रदेश (MP)1967, 18107552441675, [email protected]
महाराष्ट्र1967, 1800-22-4950022-2202-5308, 4592, 5277, [email protected]
मणिपुर1967, 1800-345-38210385-2450137, 8413975150, [email protected]
मेघालय1967, 1800-345-36700364-2224108, [email protected]
मिजोरम1967, 1860-222-222-789, 1800-345-389103892322872, [email protected]
नागालैंड1800-345-3704, 1800-345-370503702233347, [email protected]
ओडिशा1967, 1800-345-6724 / 676006742536892, [email protected]
पंजाब1967, 1800-3006-131301722742803, [email protected]
राजस्थान1800-180-612701412227352, [email protected]
सिक्किम1967, 1800-345-323603592202708, [email protected]
तमिलनाडु (TN)1967, 1800-425-590104325665566, 04428592828, [email protected]
तेलंगाना (Telangana)1967, 1800-4250-033304023310462, [email protected]
त्रिपुरा1967, 1800-345-366503812326308, [email protected]
उत्तर प्रदेश (UP)1967, 1800-180-015005512239296, [email protected]
उत्तराखंड1800-180-2000, 1800-180-418801352780765, [email protected]
पश्चिम बंगाल (WB)1967, 1800-345-550503322535293, [email protected]

Ration Card Complaint Helpline, Landline, Email ID (UTs)

अंडमान और निकोबार द्वीप समूह1967, 1800-343-319703192233345, [email protected]
चंडीगढ़1967, 1800-180-206801722703956, [email protected]
दादरा और नगर हवेली1967, 1800-233-40040260-2640663, [email protected]
दमन और दीव196702602230607, [email protected]
दिल्ली (Delhi)1967, 1800-110-841011-23378759, [email protected]
कश्मीर (Kashmir)1967, 1800-180-701101942506084, 01912472375, [email protected]
जम्मू (Jammu)1800-180-710601942506084, 01912566188, [email protected]
लक्षद्वीप1800-425-318604896263703, + 91-4896-262012, [email protected]
पुडुचेरी1800-425-1082 (पुडुचेरी), 1800-425-1083 (कराकर), 1800-425-1084 (माहे), 1800-425-1085 (यानम)04132253345, Civil.pon.nic.in

दोस्तों अगर नागरिक को राशन डीलर के खिलाफ शिकायत दर्ज कराना चाहता है तो वह केंद्र सरकार के खाद्य विभाग की आधिकारिक वेबसाइट- https://nfsa.gov.in/ पर जा सकता है और जहां से अपने राज्य के हेल्पलाइन संख्या को प्राप्त करके उस पर बिना संकोच के कांटेक्ट कर सकता है. इसके अतिरिक्त एनएफएसए के माध्यम से आपकी शिकायत को स्वीकार नहीं किया जाता है और आपको राशन लेने में कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है तो आप इस स्थिति में भी टोल फ्री नंबर के माध्यम से संपर्क कर सकते हैं।

राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के बारे मेंNational Food Security Act

NFSA Right to Food Act : दोस्तों राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 या फिर खाद्य अधिकार अधिनियम का मुख्य उद्देश्य देश के 1.3 बिलियन कम दरों पर राशन या फिर अनाज उपलब्ध कराना है. राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम भारत सरकार के माध्यम से गठित किया जाता है और भारत सरकार इसमें समय-समय पर बदलाव कर सकती है.

राष्ट्रीय खाद्य अधिनियम के अंतर्गत  मध्याह्न भोजन योजना, एकीकृत बाल विकास सेवा योजना, और सार्वजनिक वितरण प्रणाली आदि को भी सम्मिलित किया गया हैं। मध्याह्न भोजन योजना और एकीकृत बाल विकास सेवा योजना प्रकृति में सार्वभौमिक हैं, जबकि देश में पीडीएस आबादी तकरीबन दो-तिहाई (ग्रामीण क्षेत्रों में 75% और शहरी क्षेत्रों में 50%) तक पहुंच जाएगा।

सरकार द्वारा निर्धारित किए गए प्रावधानों के अंतर्गत सार्वजनिक वितरण प्रणाली अर्थात पीडीएस के लाभार्थियों को निम्नलिखित कीमतों पर प्रति माह के हिसाब से 5 किलोग्राम प्रति व्यक्ति को अनाज उपलब्ध कराना जरूरी है क्योंकि वह इस अनाज को प्राप्त करने के हकदार हैं. इसमें एक व्यक्ति को प्रतिमाह के हिसाब से ₹3 प्रति किलो के हिसाब से चावल दिया जाना है और ₹2 प्रति किलो के हिसाब से गेहूं प्रदान किया जाना है और ₹2 प्रति किलो के हिसाब से बाजरा प्रदान किया जाता है और देश की गर्भवती महिलाओं को दैनिक रूप से मुफ्त में अनाज का वितरण किया जाना हैं।

NFSA Portal से राशन कार्ड हेल्पलाइन नंबर कैसे देखें?

दोस्तों जैसा कि हमने आपको बताया कि भारत सरकार ने राशन कार्ड से संबंधित शिकायतों को दर्ज कराने के लिए आधिकारिक वेबसाइट जारी की है. राशन कार्ड धारक अपनी शिकायतों को संबंधित विभाग पहुंचाने के लिए टोल फ्री नंबर का प्रयोग कर सकता है और राशन कार्ड शिकायत ऑनलाइन दर्ज भी करा सकता है।

यदि आप राशन कार्ड शिकायत ऑनलाइन दर्ज कराना चाहते हैं तो आप नीचे दी गई प्रक्रिया को अपना सकते हैं। यह कुछ इस प्रकार है 

  • दोस्तो आप को सबसे पहले राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा की आधिकारिक वेबसाइट https://nfsa.gov.in/ को अपनी स्क्रीन पर खोल लेना है
  • अब वेबसाइट का होम पेज स्क्रीन पर आ जाएगा
  • यह आपको सिटीजन कॉर्नर का ऑप्शन दिखाई देगा
  • आपको इस ऑप्शन में Toll Free Helpline Number In States का ऑप्शन दिखाई देगा
  • फिर आपको एक ऑप्शन पर क्लिक करना है 
Ration Card Shikayat Helpline Number
  • अब स्क्रीन पर एक नया पेज खुल जाएगा
  • इस नए पेज पर आपको स्टेट के अनुसार हेल्पलाइन संख्या की एक सूची देखने को मिल  जाएगी।
  • फिर आप जिस भी राज्य से हैं या फिर जिस भी केंद्र शासित राज्य से हैं 
  • आप संख्या पर क्लिक करके अपने Ration Card Complaint Helpline Numbers को चेक कर सकते हैं 

ग्राम प्रधान या सरपंच और राशन डीलर की शिकायत कैसे दर्ज करें?

राशन डीलर की शिकायत कैसे दर्ज करें : दोस्तों वर्तमान में नागरिकों को राशन कार्ड संबंधित शिकायतों को दर्ज कराने के लिए या फिर राशन प्रदान करने वाले कोटेदारों से संबंधित शिकायतों को दर्ज कराने के लिए कहीं जाने की आवश्यकता नहीं है ना ही किसी कार्यालय में जाने की आवश्यकता है. अब सरकार ने नागरिकों की शिकायतों को प्राप्त करने के लिए टोल फ्री नंबर जारी कर दिए हैं. इन टोल फ्री नंबर के माध्यम से आप संबंधित विभाग में संपर्क कर सकते हैं. यह टोल फ्री नंबर 1800-180-0150 एवं 1967 हैं. इन नंबर पर आप अपनी शिकायतों को दर्ज करा सकते हैं.

इन नंबर के माध्यम से आप अपने अधिकार क्षेत्र में आने वाले कोटेदार या फिर ग्राम प्रधान की भी शिकायत को दर्ज करा सकते हैं। इसके अतिरिक्त आप ऑनलाइन शिकायत दर्ज कराने के लिए अपने संबंधित जिले के खाद्य आपूर्ति विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जा सकते हैं और अपनी कंप्लेंट को रजिस्टर कर सकते हैं. कंप्लेंट को रजिस्टर करने के लिए आपको अपनी कंप्लेंट से जुड़ी सभी जानकारी आधिकारिक वेबसाइट पर दर्ज करनी होगी।

उदाहरण के लिए- यदि आपको अपनी शिकायत को दर्ज करना है तो इसके लिए आपको यूपी खाद्य एवं रसद विभाग की ऑफिसियल वेबसाइट https://fcs.up.gov.in/Important/ContactUs.aspx को खोलना होगा. अब यहाँ अपनी शिकायत को दर्ज करना होगा. संबंधित अधिकारी से संपर्क करने के लिए आपको यहां संपर्क विवरण और आपके राज्य में आने वाला मुख्यालय का पता आपको प्राप्त हो जाएगा। 

पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना का विवरण  – 

महामारी के दौरान देश में लॉकडाउन किया गया था लॉकडाउन में अधिकतर लोगों की आगे जीवन याचिका चलाने का संकट खड़ा हो गया था इसीलिए देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने 80 करोड़ गरीबों को प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज के अंतर्गत सम्मिलित करके उन्हें इसका लाभ पहुंचाने की घोषणा की थी इस घोषणा को मार्च 2022 तक लागू किया गया था

इस योजना का मुख्य उद्देश्य देश के सभी नागरिकों को फ्री में राशन उपलब्ध कराना है जिससे प्रत्येक नागरिक को राशन की प्राप्ति हो सके और इसके लिए उन्हें कम से कम मूल्य चुकाना पड़े. दोस्तों इस योजना के अंतर्गत गरीब नागरिक को 5 किलो चावल या फिर 5 किलो गेहूं प्रदान किया जाना है और 1 किलो चना भी इस योजना में सम्मिलित किया गया है. इस योजना के अंतर्गत सरकार का 1.5 लाख करोड़ रुपये जिला का खर्च आएगा।

Conclusion

दोस्तों आज हमने अपने आर्टिकल के माध्यम से आपको Ration Card Shikayat Number, Register Your Grievance, टोल फ्री नंबर पर राशन कार्ड संबंधी शिकायत कैसे करें, राशन कार्ड का शिकायत नंबर आदि के बारे में पूर्ण रूप से जानकारी प्रदान की है. आप जिस भी राज्य से हैं आप उस राज्य के राशन कार्ड हेल्पलाइन संख्या के माध्यम से अपनी शिकायतों को दर्ज करा सकते हैं और राशन कार्ड से जुड़ी सुविधाओं को प्राप्त कर सकते हैं. दोस्तों हम उम्मीद करते हैं कि यह जानकारी आपको जरूर पसंद आई होगी. ऐसी ही महत्वपूर्ण जानकारियां प्राप्त करने के लिए आप हमारी वेबसाइट rationcardslist.in से जुड़े रहिए. हमारा आर्टिकल पढ़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।

यह भी पढ़ें :

राशन कार्ड शिकायत ऑनलाइन से संबंधित प्रश्न उत्तर 

भारत में कितने प्रकार के राशन कार्ड जारी किए जाते हैं?

देश के प्रत्येक राज्य में राशन कार्ड को अलग-अलग श्रेणियों के अनुसार वर्गीकृत किया गया है. जो नागरिक जिस श्रेणी में आते हैं उन्हें उस श्रेणी में रखकर लाभार्थी बनाया जाता है. देश में मुख्य रूप से तीन श्रेणियां चलाई जा रही हैं जिसके माध्यम से देश के नागरिकों को राशन उपलब्ध कराया जा रहा है. यह तीनों श्रेणियां कुछ इस प्रकार है :
AAY (Antyodaya Anna Yojana)
BPL (Below Poverty Line) Ration Card
APL (Above Poverty Line) Ration Card.

राशन कार्ड हेल्पलाइन नंबर UP 2022 क्या है?

उत्तर प्रदेश राशन कार्ड टोल-फ्री नंबर 1967, 1800-180-0150 है।

राशन कार्ड से संबंधित शिकायतों को मुख्यमंत्री जी तक पहुंचाने के लिए क्या करना चाहिए? 

आप अपनी शिकायतों को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी से सीधे ही पहुंचा सकते हैं. शिकायत पहुंचाने के लिए आप टोल फ्री नंबर 1076 का प्रयोग कर सकते हैं।

यदि हमें राशन नहीं मिल रहा है और टोल फ्री नंबर पर शिकायत दर्ज कराने के पश्चात भी शिकायत पर कोई कार्यवाही ना हो तब हमें क्या करना चाहिए?

इसके लिए आप NFSA की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन शिकायत को रजिस्टर करा सकते हैं या फिर आप अपने ग्राम प्रधान या फिर वार्ड मेंबर के पास जाकर अपनी शिकायत को दर्ज करा सकते हैं।

क्या उत्तर प्रदेश राज्य के लिए राशन कार्ड संबंधित हेल्पलाइन संख्या जारी की गई है?

यूपी राज्य में राशन कार्ड संबंधित शिकायतों को दर्ज कराने के लिए हेल्पलाइन संख्या जारी की गई है. यह हेल्पलाइन संख्या- 1967 और 1800-180-0150 है।

Ration Card Shikayat Number | Ration Card Shikayat Helpline Number | Up Ration Card Shikayat Number | Up Ration Card Shikayat Helpline Number | Ration Card Shikayat Toll Free Number | Ration Card Shikayat Helpline Number | Register Your Grievance at Toll-Free No |  Rashan Card Shikayat Helpline

Leave a Comment